Monday , March 1 2021
Breaking News

अंतिम दर्शन में दिखा कई का दर्द; नौकरी दिलवाने के साथ पैसा भी दिया और घर जाने के लिए एसी का टिकट भी

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Ram Vilas Paswan Antim Darshan Cremated: Condolences On The Death Of Former Union Minister And LJP Founder

पटना20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ऐसे लोगों की लंबी सूची है, जिनके घरों में आज रामविलास पासवान की बदौलत खुशियां हैं।

  • लोगों को नौकरी दिलवाकर देश के कई घरों में जलाया था खुशियों का चिराग
  • मौत की खबर सुनने के बाद ऐसे लोगों का से रो-रोकर हो गया बुरा हाल

रामविलास पासवान ने कई घरों में खुशियों का चिराग जलाया था। एक-दो नहीं सैकड़ों लोगों को नौकरी दिलवाकर तरक्की का रास्ता दिखाया था। बिहार ही नहीं, देश के हर प्रदेश में ऐसे लोग मिल जाएंगे, जिनकी जिंदगी रामविलास पासवान ने बदल दी। शनिवार को अंतिम यात्रा में शामिल होने आए दरभंगा के बेहरी निवासी सिकंदर भी उन्हीं में से एक हैं। वह उन दिनों की बात यादकर रो पड़ते हैं जब रेलमंत्री रामविलास पासवान ने गरीबी देख उन्हें रेलवे में नौकरी दिलवाई थी। जेब में पैसा भी डाल दिया था और एसी कोच का टिकट। दुश्वारियों से जूझ रहे सिकंदर नौकरी ज्वाइन करने के बाद घर गए। सिकंदर का कहना है कि ऐसे लोगों की लंबी सूची है, जिनके घरों में आज रामविलास पासवान की बदौलत खुशियां हैं।

चिट्‌ठी देकर बुलाया और दे दी नौकरी
दरभंगा के सिकंदर का कहना है कि वह पढ़ाई किए लेकिन बेरोजगारी दूर नहीं हो पाई। घर का खर्च चलाने के लिए मजदूरी करने को तैयार था लेकिन वह भी नहीं थी। काफी प्रयास के बाद भी कोई रोजगार नहीं था। सरकारी नौकरी तो बड़ा सपना था। कोई आगे पीछे नहीं था। इस कारण से कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करें। सिकंदर का कहना है कि ऐसा कम ही होता है कि किसी को बुलाकर रेलमंत्री नौकरी दें। सिकंदर का कहना है कि गांव में सबसे खराब हालत उनके परिवार की थी। पढ़ा लिखा लड़का मजदूरी को तैयार था, यह बात पासवान को पता चल गई। चिट्‌ठी भेजकर सिकंदर को दिल्ली बुलाया और सपना साकार कर दिया।

मदद पाने वालों की लंबी कतार
सिकंदर ही नहीं, मदद पाने वालों की लंबी कतार है। शनिवार को रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन के दौरान मौजूद लोगों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक रही। राज किशोर यादव और तेज प्रकाश भी इसी में शामिल हैं। राज किशोर का कहना है कि उनके लिए तो नौकरी सपना थी लेकिन रामविलास पासवान भगवान बनकर सामने आए और नौकरी दी। ऐसे लोगों का रो-रोकर हाल बेहाल था, जिन्हें रामविलास पासवान ने राह चलते नौकरी देकर घर में खुशी का चिराग जलाया।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

सिटी में अब 9 बोरिंग पंप चालू: वार्ड 58 और 59 में बोरिंग चालू, लोगों काे एक घंटे में 70 हजार गैलन मिलेगा पानी

सिटी में अब 9 बोरिंग पंप चालू: वार्ड 58 और 59 में बोरिंग चालू, लोगों काे एक घंटे में 70 हजार गैलन मिलेगा पानी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना32 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *