Monday , March 1 2021
Breaking News

अभियान के बावजूद बच्चों का नहीं हुआ एडमिशन, 12 अक्टूबर तक ढूंढ़े जाएंगे स्कूल से वंचित बच्चे

सासारामएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • 15 से 31 जुलाई तक नामांकन के लिए चला था अभियान, पर नामांकन संतोषजनक नहीं

अनामांकित बच्चों की जानकारी राज्य शिक्षा मुख्यालय को नहीं मिलने पर फिर से एक पखवारे तक सघन नामांकन अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। माध्यमिक शिक्षा के प्रधान सचिव संजय कुमार ने रोहतास सहित राज्य के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र भेजा है। सचिव ने 12 अक्टूबर तक सघन नामांकन अभियान चलाने को कहा है।

शिक्षक गांव-गांव में जाकर बच्चों की उम्र पहचान कर स्कूलों में नामांकन कराएंगे और इसकी सूचना प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के माध्यम से जिला एवं राज्य शिक्षा मुख्यालय को देंगे। ज्ञात हो कि पूर्व में 15 से 31 जुलाई तक नामांकन के लिए जोर-शोर से अभियान चलाई गई थी। उसके बाद भी नामांकन संतोषजनक नहीं रहा। इसमें विद्यालय पोषक क्षेत्र के सभी टोला, बसावट में गृहवार सर्वेक्षण विद्यालयों के शिक्षक, टोला सेवक एवं तालिमि मरकज के स्वयं सेवकों द्वारा किया जाएगा। इस कार्य हेतु विद्यालय के प्रधान शिक्षक द्वारा एक विस्तृत योजना तैयार कर वर्ग 1 में अनामाकित बच्चों का नामांकन उनके गृह पर जाकर करेंगे तथा नामाकित बच्चों को विद्यालय खुलने के पश्चात कक्षा में उपस्थित होने के लिए प्रेरित करेंगे।
शत-प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करेंगे एचएम
डीईओ ने एचएम को निर्देश दिया है कि इस अभियान में वर्ग-1 में शत प्रतिशत नामाकन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि प्राथमिक विद्यालयों में वर्ग 5 से प्रोन्नत छात्र-छात्राओं का शत-प्रतिशत नामाकन वर्ग 6 में कराया जाना है। विभाग में प्राप्त आकड़ों से विदित होता है कि इस संक्रमण काल में जिले भर से काफी संख्या में छात्र-छात्राओं ने स्कूल छोड़ दिया है। संकुल स्तर पर उपलब्ध प्राथमिक विद्यालयों में वर्ग 5 से प्रोन्नत छात्र-छात्राओं का आकलन कर छात्रों की सुविधानुसार उस क्षेत्र में अवस्थित मध्य विद्यालयों में नामाकन हेतु टैगिंग किया जाए। प्राथमिक विद्यालयों के प्रधान शिक्षक ऐसे प्रोन्नत छात्र/छात्राओं का नामाकन नजदीकी मध्य विद्यालय में सूची तैयार कर प्रधानाध्यापक को सौंप देंगे। उसी तरह मध्य विद्यालयों में वर्ग 8 से प्रोन्नत छात्र-छात्राओं का नामाकन माध्यमिक विद्यालय में वर्ग नवम में किया जाना है।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

स्वच्छता की पहल: मटके में गीले कचरे से घर में ही तैयार कर सकते हैं जैविक खाद

स्वच्छता की पहल: मटके में गीले कचरे से घर में ही तैयार कर सकते हैं जैविक खाद

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप मुजफ्फरपुरएक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *