Thursday , April 15 2021
Breaking News

कोरोना काल में पूर्ण सुरक्षा के साथ जिले के छह लाख बच्चों को पिलाई जाएगी पोलियो की खुराक

सीतामढ़ी3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

डुमरा पीएचसी में नवजात को पोलियों की दवा पिलाते स्वास्थ अधिकारी।

  • शिशुओं काे पाेलियाे की खुराक पिलाना जरूरी, जिले में 101 डिपो व सब डिपो बनाए गए

मुख्यालय डुमरा स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में रविवार काे नवजात शिशु काे पाेलियाे की खुराक पिलाकर पाेलियाेे राउंड की शुरुआत की गयी। अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. सुरेंद्र कुमार चौधरी, डीआईओ एके झा एवं चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. धनंजय कुमार ने संयुक्त रूप से नवजात शिशु काे पाेलियाे की दवा पिलायी। इस अवसर पर उन्हाेंने बताया कि आगामी 15 अक्टूबर तक चलने वाले पल्स पोलियो अभियान में जिले के छह लाख दो हजार बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने का लक्ष्य रखा गया है।

इसके लिए 1228 दल घर-घर टीम की प्रतिनियुक्ति की गयी है। इस दौरान स्वास्थ्य कर्मियों को मास्क का इस्तेमाल करने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए दिशा-निर्देश दिया गया है। अभियान को सफल बनाने के लिए कुल 1474 दल बनाए गए हैं। इनमें 185 ट्रांजिट दल, 45 मोबाइल दल और 16 एकल दल शामिल हैं। जिनके ऊपर अभियान की सफलता की बड़ी जिम्मेवारी दी गयी है। स्थ्यकर्मियों की टीम की देखरेख के लिए 478 सुपरवाइजर को लगाया गया है।

सामग्री आपूर्ति के लिए 70 वाहन कराया गया उपलब्ध

जिले में व्यापक रूप से यह अभियान चलाया जाना है। इसके लिए 70 वाहनों को कोल्ड चेन, टीका और अन्य सामग्रियों की आपूर्ति में लगाया गया है। कुल 101 डिपो और सब डिपो बनाए गए हैं। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने बताया कि कार्यक्रम को सफल बनाने में जनप्रतिनिधियों का योगदान भी अहम होगा। ग्रामीण स्तर पर पोलियो अभियान को लेकर जागरूकता नहीं है। जिसको लेकर जनप्रतिनिधियों के सहयोग से वहां जागरूकता कर पोलियो खुराक पिलाने पर बल दिया गया।

बताया कि पोलियो उन्मूलन जनजागरुकता के कारण ही संभव हो पाया है। भविष्य में इसकी संभावनाओं को समाप्त करने के लिए यह अभियान कारगर साबित होगा। पोलियो की खुराक पिलाने से पांच वर्ष तक की आयु के सभी बच्चों को इस बीमारी से लड़ने की ताकत मिलती है।

साथ ही इससे पोलियो विषाणु को किसी भी बच्चे के शरीर में पनपने की जगह नहीं मिलेगी, जिससे पोलियो का खात्मा हो जायेगा। यह खुराक नवजात शिशु को भी पिलानी जरूरी है। निश्चिंत होकर शिशु को पोलियो की खुराक दिलाएं, इससे किसी भी प्रकार का कोई खतरा नहीं है।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

प्रो. अरूण कुमार का बनारस में होगा दाह संस्कार: पूर्व सभापति के पार्थिव शरीर को विधान परिषद् नहीं ले जाया जाएगा, 41 सालों तक रहे थे MLC

प्रो. अरूण कुमार का बनारस में होगा दाह संस्कार: पूर्व सभापति के पार्थिव शरीर को विधान परिषद् नहीं ले जाया जाएगा, 41 सालों तक रहे थे MLC

Hindi News Local Bihar Former Legislative Council Member Arun Kumar Passes Away In Patna; Last …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *