Monday , March 1 2021
Breaking News

चुनावी दंगल में टीएमबीयू के छात्र यहां के गुरुओं से रहे हैं माहिर, सीएम तक बने, ज्यादातर शिक्षकों को मिली हार

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • In The Election Riots, The Students Of TMBU Have Been From The Gurus Here, They Became Expert, Till The CM, Most Of The Teachers Lost.

भागलपुर8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • टीएमबीयू के छात्रों ने छुआ शिखर लेकिन शिक्षकों को कम रास आता चुनावी दंगल

(अभिषेक) राजनीति में टीएमबीयू के छात्र यहां के गुरुओं से माहिर साबित हुए हैं। इन्हाेंने राजनीति के शिखर काे छुआ है। मुख्यमंत्री तक रहे हैं। लेकिन इसकेे उलट शिक्षकाें काे यह दंगल ज्यादा रास नहीं आता है। शिक्षक जब भी एमएलए चुनाव में कूदे हैं, ज्यादातर हारे ही हैं। इस बार भी तीन शिक्षक मैदान में हैं।

डाॅ. विलक्षण रविदास धाेरैया विधानसभा क्षेत्र से जाप के प्रत्याशी हैं। मुरारका काॅलेज के ललित मंडल सुल्तानगंज से जदयू उम्मीदवार हैं और डिग्री काॅलेज समुखियामाेड़ के विजय यादव कहलगांव से प्लूरल पार्टी से दावेदार हैं। पहले उन छात्राें की बात जिन्हाेंने राजनीति की ऊंचाइयाें काे छुआ। दराेगा प्रसाद राय, जगन्नाथ मिश्र, चंद्रशेखर सिंह, भागवत झा आजाद। अलग-अलग समय में बिहार के मुख्यमंत्री रहे ये राजनेता टीएमबीयू के छात्र रहे थे।

भुस्टा के अध्यक्ष डाॅ. डीएन राय ने बताया कि ये सभी टीएनबी काॅलेज के छात्र थे। इस बार के चुनाव से पहले आठ शिक्षकों ने राजनीति में हाथ आजमाया और सफलता सिर्फ दाे काे मिली। शिक्षकाें में प्राे. शिवचंद्र झा और डाॅ. नीलमाेहन सिंह ने ही एमएलए चुनाव जीता था। प्राे. याेगेन्द्र और डाॅ. प्रेमशंकर झा ने बताया कि कई शिक्षकाें ने एमपी और एमएलसी चुनाव भी लड़ा। लेकिन एमएलए चुनाव में यही दाे हैं जिन्हें जीत मिली।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

स्वच्छता की पहल: मटके में गीले कचरे से घर में ही तैयार कर सकते हैं जैविक खाद

स्वच्छता की पहल: मटके में गीले कचरे से घर में ही तैयार कर सकते हैं जैविक खाद

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप मुजफ्फरपुरएक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *