Thursday , February 25 2021
Breaking News

निर्दलीय की कसौटी पर परखने के बाद भाजपा-कांग्रेस ने उतारे प्रत्याशी, सातों सीट पर एनडीए और महागठबंधन के बीच होगा सीधा मुकाबला

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • After Testing Independents’ Test, BJP Congress Fielded Candidates, NDA And Mahagathbandhan Will Contest In Seven Seats

भागलपुर9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

(मदन) जिले की सात विधानसभा सीट पर अब तस्वीर साफ हाे गई है। सुल्तानगंज, कहलगांव, नाथनगर, गोपालपुर और कहलगांव सीट पर स्थिति पहले ही स्पष्ट हो गयी थी कि किनके बीच मुकाबला होगा। भागलपुर, पीरपैंती और बिहपुर में भी भाजपा ने रविवार काे उम्मीदवारों के नाम की घाेषणा कर सस्पेंस काे खत्म कर दिया।

भागलपुर से कांग्रेस, पीरपैंती और बिहपुर से राजद ने उम्मीदवारों ने भी नाम की घोषणा कर दी है। अभी तक की तस्वीर से ये साफ हो गया है कि सभी दलों ने नए चेहरे पर भी दांव लगाए हैं। अब तक भाजपा ने दाे, कांग्रेस ने दो, जदयू ने एक और राजद ने भी दो नए चेहरे पर भरोसा जताया है।

भाजपा ने कहलगांव और कांग्रेस ने सुल्तानगंज से वैसे प्रत्याशी को मैदान में उतारा है, जो उम्मीदवार 2015 के चुनाव में निर्दलीय थे और अच्छी खासी वोट लाए थे। यानी दोनों ही दलों भाजपा और कांग्रेस ने निर्दलीय की कसौटी पर परखने के बाद इस बार कहलगांव और सुल्तानगंज से उम्मीदवार को मैदान में उतारा है।
पिछली बार ललन यादव और पवन निर्दलीय चुनाव लड़े थे
2015 के चुनाव में महागठबंधन से सुल्तानगंज की सीट जदयू की झोली में चली गयी थी। जबकि एनडीए से कहलगांव की सीट लोजपा के खाते में चली गयी थी। सुल्तानगंज से कांग्रेस के ललन यादव व कहलगांव से पवन यादव बागी हो गए थे। दोनों निर्दलीय लड़े व दोनों तीसरे स्थान पर रहे थे। पवन ने 14. 97%वोट लाए थे, जबकि ललन काे 9.1 % वोट आए थे। इस बार गठबंधन का समीकरण बदला और दोनों टिकट पा गए।

सभी दलों ने उम्मीदवारों के नाम की कर दी है घोषणा
जिले की सात विधानसभा सीटों के लिए महागठबंधन के सभी दलों जबकि एनडीए से जदयू ने अपनी सीट पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा पहले ही कर दी। भाजपा ने रविवार को भागलपुर से राेहित पांडेय, बिहपुर से इंजीनियर शैलैंद्र और पीरपैंती से ललन पासवान काे मैदान में उतारा है। घोषणा के बाद बागियों की संख्या भी बढ़ सकती है। भागलपुर से विजय साह और पीरपैंती से अमन पासवान निर्दलीय लड़ने की घाेषणा की है।

दलों ने जातीय समीकरण को ध्यान में रखकर बांटे हैं टिकट
सभी सीट पर दोनों ही गठबंधन ने जातीय समीकरण और जातिगत वोट बैंक के आधार पर टिकट बांटे हैं। महागठबंधन ने पिछड़ा, अति पिछड़ा, दलित, स्वर्ण और मुस्लिम समाज के लोगों को टिकट दिया है। इनमें गंगोता एक, यादव दो, कुर्मी एक, पासवान एक, मुस्लिम एक और एक भूमिहार जाति के उम्मीदवार हैं। जबकि एनडीए से अब तक एक धानुक, एक यादव, दो गंगोता, एक ब्राह्मण, एक दलित व एक भूमिहार काे मैदान में उतारा है।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

डंपर ने ढाई साल के मासूम को कुचला: घर के बाहर खेल रहा था; तेज रफ्तार डंपर ने ऐसी टक्कर मारी कि हाथ-पैर कटकर लटक गए

डंपर ने ढाई साल के मासूम को कुचला: घर के बाहर खेल रहा था; तेज रफ्तार डंपर ने ऐसी टक्कर मारी कि हाथ-पैर कटकर लटक गए

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप भोजपुर9 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *