Thursday , April 15 2021
Breaking News

नेताओं को सुनने के लिए समर्थकों ने मिलाया कंधे से कंधा, कोरोना को भी भूले; कुर्सियों के बीच की दूरी भी दाे गज से सेंटीमीटर में बदली

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Gaya
  • Supporters Shook Shoulder To Shoulder To Listen To Leaders, Even Forget Corona; The Distance Between The Chairs Also Changed From The Right Yard To The Centimeter.

गयाएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

गया के गांधी मैदान में आयोजित भाजपा अध्यक्ष की चुनावी सभा में उपस्थित महिलाएं।

  • काेराेना काल में पहली ऐतिहासिक चुनावी रैली का हाल, उत्साहित एनडीए समर्थक हजाराें की संख्या में जुट गए
  • गाइडलाइन भूले समर्थक, चेहरे पर लगा मास्क ठुड‌्डी पर लटका

शहर के गांधी मैदान में रविवार काे हुई भाजपा अध्यक्ष जेपी नड‌्डा की सभा ऐतिहासिक चुनावी रैली साबित हुई। ऐतिहासिक कई मामलाें में, पहला कि यह काेराेना काल में हुई पहली चुनावी रैली थी। दूसरा, व्यवस्थापकाें ने इतने बड़े आयाेजन में काेविड-19 से सुरक्षा के लिए तमाम एहतियात अपनाए थे। और इससे अलग, संक्रमण के खतराें काे नजरअंदाज कर, जहां रैली में सीमित संख्या में लाेगाें काे शामिल हाेना था, वहां उत्साहित एनडीए समर्थक हजाराें की संख्या में जुट गए।

सभा के प्रवेशद्वार पर मिले मास्क काे लाेगाें ने चेहरे पर लगाया, पर अंदर जाते ही मास्क ठुड्डी पर आ गया या फिर जेब में। कुर्सियाें के बीच में दाे गज की दूरी भी सेंटीमीटर में बदल गई और साेशल डिस्टेंसिंग कंधाें के बीच दबती नजर आई।
सीन 1 थर्मल स्क्रीनिंग के बाद मिला प्रवेश

सभा पंडाल के बाहर आयोजक थर्मल स्क्रीनिंग कर लाेगाें काे प्रवेश दे रहे थे। साथ ही उन्हें मास्क भी दिया जा रहा था। पुलिस भी कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करा रही थी। अंदर का नजारा अलग दिखा। चुनावी सभा के पंडाल में भी बड़ी संख्या में महिलाएं व पुरुष बैठे मिले। मंच से 100 मीटर की दूरी पर वीआईपी और प्रेस दीर्घा के बाद आम लोगों के बैठने के लिए कुर्सियां लगी थी।

उन पर लाेग सोशल डिस्टेंसिग को दरकिनार कर बैठे दिखे। एक कुर्सी की दूरी दूसरी से दो गज से सिमट कर चंद सेंटीमीटर रह गई थी। लोगों का मास्क मुंह और नाक से उतरकर ठुड्डी पर आ गया था। युवा नारेबाजी के चक्कर में मास्क उतार कर आवाज बुलंद करने में जुटे थे।

सीन 2 उत्साह में भूल गए सुरक्षा के नियम

एनडीए के घटक दलाें के समर्थक कोरोना से बचाव के दिशा-निर्देश को उत्साह के मारे भूलते नजर आए। हालांकि आयोजक बार-बार कोविड-19 की गाइडलाइन के पालन की दुहाई दे रहे थे। पर समर्थक अपने चहेते नेताओं काे सुनने के लिए कंधे से कंधा मिलाकर और साथ बैठे नजर आ रहे थे।

हालांकि यह हरकत न तो उनके लिए सुखद है और न ही किसी आम नागरिक के लिए। उनकी यह अनदेखी समाज पर भारी भी पड़ सकती है। उल्लेखनीय है कि कोविड-19 को लेकर भारत सरकार ने गाइडलाइन जारी कर रखी है, जिसका पालन देश की जनता को ही करना है। तभी हम कोविड-19 को दूर भगाने में सफल होंगे।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

कोरोना से 14 दिन में 75 मौत: अप्रैल लिख रहा मौत की कहानी, ठंडी नहीं पड़ रही चिता की आग; एक के बाद दूसरी लाश

कोरोना से 14 दिन में 75 मौत: अप्रैल लिख रहा मौत की कहानी, ठंडी नहीं पड़ रही चिता की आग; एक के बाद दूसरी लाश

Hindi News Local Bihar Patna Patna Coronavirus, Bihar Crematoriums Update: 75 Covid 19 Patients Deaths …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *