Monday , April 19 2021
Breaking News

पूर्वी कपस्या में नाबालिग लड़की को छुड़ाया चार ग्राहक समेत संचालिका हुई गिरफ्तार

बेगूसरायएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

घनी आबादी के बीच पूर्वी कपस्या के एक घर में चकलाघर संचालित करने का खुलासा पुलिस छापेमारी में हुआ है। पुलिस ने देह व्यापार के अड्डे से एक नाबालिग लड़की, चकलाघर संचालिका अनिता देवी, उसकी पुत्री और 4 ग्राहकों को गिरफ्तार किया है। हेडक्वार्टर डीएसपी निशिथ प्रिया के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने बुधवार की रात करीब साढ़े नौ बजे रेड डाला। जस्टिस वेंचर्स इंडिया की सुचना पर छापेमारी की गई। पुलिस को मौके पर भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामान मिला। पुलिस ने मौके पर से यूज्ड कंडोम, कंडोम, शक्तिवर्धक टेबलेट, 3 शराब की खाली बोतल, एक शराब की बोतल, 9 मोबाइल, 7 पासबुक, एक सीपीयू, चिप आदि जब्त किया गया है। पकड़े गए ग्राहकों में नगर थाना क्षेत्र के विष्णुपुर का हिमांशु, सिंघौल सहायक थाना क्षेत्र का गौरव, सिंघौल का अमरजीत और नागदह का सुमित शामिल है। छापेमारी के दौरान प्रभारी नगर थानाध्यक्ष ज्योति कुमार, जेवीआई के डायरेक्टर जाहिद हुसैन और लीगल एडवाइजर श्याम कुमार थे। प्रभारी नगर थानाध्यक्ष ज्योति कुमार ने बताया कि पोस्को एक्ट और रेप की धाराओं में एफआईआर दर्ज किया गया है।

संचालिका ने आधा घंटा तक नहीं खोला घर का गेट

रेड के दौरान पुलिस की टीम को देख कर संचालिका ने आधा घंटा का अपना गेट नहीं खोला। पुलिस काफी मशक्कत के बाद गेट खुलवाने में सफल रही।

पुलिस को चकमा देने के लिए नाबालिग लड़की के मांग में डाल दी सिंदूर
रेड के दौरान पुलिस को चकमा देने के लिए संचालिका ने नाबालिग लड़की के मांग में सिंदूर डाल दिया। पुलिस को सुचना थी कि नाबालिग लड़की को खरीद कर देह व्यापार करवाया जा रहा है। लेकिन कोई नाबालिग लड़की को नहीं पाकर पुलिस हैरान रह गई। लेकिन उक्त पीड़ित ने ही खुद आगे आकर बोली मेरी मांग में अभी सिंदूर डाला गया है।

बेटी से भी करवाती थी धंधा
चकलाघर की संचालिका अपनी बेटी भी देह व्यापार कराती थी। पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार किया है। संचालिका हर ग्राहक से एक हजार रूपए लेती थी। उसके घर के आगे ग्राहक अपनी बारी आने का इंतजार किया करते थे।

प्रेमी ने नई दिल्ली में छोड़ा, पटना में मिले अनजान शख्स ने चकलाघर में बेचा
झारखंड के गुमला की रहने वाली 15 साल की लड़की की यह कहानी दर्दनाक , खौफनाक और सनसनीखेज है। यह उन लड़कियों के लिए सीख और चेतावनी है, जो बिना सोचे समझे प्यार के चक्कर में घर-वार छोड़ देती है। चकलाघर से मुक्त कराई गई पीड़िता ने बताया कि वह दो माह पहले अपने पास के गांव के प्रेमी वसंत सिंह के साथ घर से भाग गई। वह प्रेमी के साथ नई दिल्ली पहुंच गई। कुछ दिन साथ रहने के बाद प्रेमी उसे छोड़ कर भाग गया। वहीं ट्रेन से पटना पहुंच गई। पटना जंक्शन पर दो दिन रही। वहीं उसे एक युवक मिला। जिसने उसे भरोसा दिया कि उसे अच्छा काम देगा और अच्छा से रखेगा। वह उसे बेगूसराय में अनिता देवी के हाथों बेच दिया। अनिता देवी उससे देह व्यापार कराना शुरू कर किया। रोजाना 10 से 15 युवक के साथ हम बिस्तर होना पड़ता था। विरोध करने पर बुरी तरह से मारपीट करती थी। घर से बाहर जाती थी तो कमरे में बंद कर देती थी। डेढ़ माह से उसका जीवन नर्क हो गया था। पीड़िता ने बताया कि वह ग्राहकों के दर्द से रोने लगती थी। किसी को दया नहीं आती थी।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

ऑक्सीजन पर पहरे से संकट और गहराया: निजी अस्पतालों को नहीं मिल रहे पर्याप्त सिलेंडर, प्रशासन ने ऐसे अस्पतालों को दी इलाज की अनुमति जहां व्यवस्था ही नहीं

ऑक्सीजन पर पहरे से संकट और गहराया: निजी अस्पतालों को नहीं मिल रहे पर्याप्त सिलेंडर, प्रशासन ने ऐसे अस्पतालों को दी इलाज की अनुमति जहां व्यवस्था ही नहीं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *