Thursday , April 15 2021
Breaking News

बिहपुर-पीरपैंती में पुराने प्रतिद्वंद्वी और तीन सीटों पर नए-पुराने चेहरे में होगी टक्कर, बिहपुर में एक बार फिर बुलो मंडल और इंजीनियर शैलेंद्र में मुकाबला

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • In Bihpur Pirpainti, Old Rival And Three Seats Will Face New And Old Faces, Once Again In Bihpur, Contest Between Bulo Mandal And Engineer Shailendra

भागलपुर12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सुल्तानगंज में जदयू से ललित मंडल और कांग्रेस से ललन यादव पार्टी के टिकट से पहली बार मैदान में हैं।

  • जिले की सातों सीट पर एनडीए और महागठबंधन के प्रत्याशी तय, चुनावी दंगल शुरू
  • भागलपुर में भाजपा के अलावा लाेजपा से डिप्टी मेयर राजेश वर्मा भी मैदान में

(मदन) जिले की सातों विधानसभा सीटों पर अब एनडीए और महागठबंधन के उम्मीदवारों के नामों की घोषणा हो गई है। सभी प्रत्याशी चुनावी दंगल में उतर गए हैं। एक दशक बाद बिहपुर में एक बार फिर दो पुराने प्रतिद्वंद्वी बुलो मंडल और इंजीनियर शैलेंद्र मैदान में होंगे। पीरपैंती से 2015 की तरह ही रामविलास व ललन पासवान के बीच टक्कर होगी।

हाॅट सीट भागलपुर पर मुकाबला दिलचस्प रहेगा। कांग्रेस से अजीत शर्मा, भाजपा से राेहित पांडेय व लाेजपा से डिप्टी मेयर राजेश वर्मा मैदान में हैं। यहां भाजपा के रहते लाेजपा ने अपना कैंडिडेट दिया है। गोपालपुर से 15 साल से जीत रहे जदयू के गोपाल मंडल को टक्कर देने के लिए राजद ने नए खिलाड़ी शैलेश कुमार को मैदान में उतारा है।

सुल्तानगंज से राजद से बागी हुई नीलम देवी लोजपा से चुनाव लड़ रही हैं। जबकि नाथनगर से राजद से बागी अशोक कुमार आलोक बसपा से उतरेंगे। भाजपा से बागी विजय साह भागलपुर और पीरपैंती से अमन पासवान निर्दलीय लड़ेंगे। कांग्रेस से बागी हुए पूर्व जिला अध्यक्ष शाह अली सज्जाद भी निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे।

गोपालपुर से रंगरा जिप सदस्य सह भाजपा महिला मोर्चा की जिला उपाध्यक्ष शबाना आजमी जाप से मैदान में उतरेंगी। नवगछिया ग्रामीण के भाजपा प्रखंड अध्यक्ष संजीव कुमार सिंह उर्फ झाबो दा राजपा से चुनाव लड़ेंगे। दोंनो ने एनआर भी कटा लिया है।

इन दो सीटों पर नए में मुकाबला

1. सुल्तानगंज : सुल्तानगंज में जदयू से ललित मंडल और कांग्रेस से ललन यादव चुनाव लड़ रहे हैं। ये दोनों पार्टी के टिकट से पहली बार मैदान में हैं
2. कहलगांव : कहलगांव से महागठबंधन से कांग्रेस से शुभानंद मुकेश व भाजपा से पवन यादव मैदान में हैं। सदानंद सिंह के बेटे शुभानंद मुकेश पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि पवन यादव पिछली बार निर्दलीय चुनाव लड़े थे।

भागलपुर में तीन में होगी लड़ाई
1. भागलपुर :
कांग्रेस से अजीत शर्मा, भाजपा से रोहित पांडे और लोजपा से राजेश वर्मा के बीच तिकोनी लड़ाई है। अजीत शर्मा बीते दो टर्म से लगातार जीत रहे हैं। भाजपा दो बार से हार रही है। इस बार जिला अध्यक्ष रोहित पांडे मैदान में हैं। वहीं लोजपा ने भागलपुर में राजेश वर्मा को मैदान में उतारा है। वर्तमान में भागलपुर के वे डिप्टी मेयर है। इनके आने से चुनावी फिजा बदल गई है। माना जा रहा है कि यहां इन तीन में कांटे की लड़ाई होगी।

गोपालपुर व नाथनगर में पुराने-नए में होगा संघर्ष

2. गोपालपुर : यहां से जदयू के गोपाल मंडल बीते 15 साल से जीत रहे हैं। इस बार भी वही मैदान में हैं। राजद से नए चेहरे शैलेश कुमार को टिकट दिया गया है। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या गोपाल के विजय रथ को शैलेश कुमार रोक पाएंगे या गोपाल चौथी बार भी जीत का स्वाद चखेंगे।

3. नाथनगर : नाथनगर विधानसभा सीट से जदयू ने एक बार फिर लक्ष्मीकांत मंडल पर भरोसा जताया है। जबकि राजद से उपचुनाव में खड़ी राबिया के बदले अशरफ सिद्दीकी को टिकट दिया है। लक्ष्मीकांत मंडल ने उपचुनाव में जीत हासिल की थी। अब इस बार पुराने व नए में मुकाबला होगा।

इन दो सीटों पर दो पुराने खिलाड़ी के बीच दंगल
1. बिहपुर:
इस विधानसभा सीट पर भाजपा से इंजीनियर शैलेंद्र और राजद से बुलो मंडल के बीच टक्कर होगी। ये दोनों 2010 में भी आमने-सामने थे। उसमें बुलो को हार का सामना करना पड़ा था। जबकि 2015 में बुलो की पत्नी वर्षा रानी ने भाजपा के इंजीनियर शैलेंद्र को हार का मुंह दिखाया था। इन दोनों प्रतिद्वंद्वियों में इस बार सीधी लड़ाई होगी।

2. पीरपैंती : पीरपैंती विधानसभा सीट से एक बार फिर पुराने प्रत्याशी को दोनों गठबंधन ने मैदान में उतारा है। राजद से रामविलास पासवान और भाजपा से ललन पासवान एक बार फिर आमने-आमने होंगे। दोनों 2015 के चुनाव में भी लड़े थे। राजद के रामविलास पासवान जीते थे। भाजपा के ललन पासवान हार गए थे। इसबार फिर मैदान में उतरेंगे।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

पटना में जान से खिलवाड़: न खुद की चिंता न दूसरों की परवाह, नियम तोड़कर बन रहे खतरा, संक्रमण की रफ्तार बढ़ी तो सख्त हुआ प्रशासन

पटना में जान से खिलवाड़: न खुद की चिंता न दूसरों की परवाह, नियम तोड़कर बन रहे खतरा, संक्रमण की रफ्तार बढ़ी तो सख्त हुआ प्रशासन

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना7 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *