Friday , February 26 2021
Breaking News

महिला ने प्रेमी से पति काे गांधी सेतु से गंगा नदी में फेंकवाया, पत्नी और उसके प्रेमी सहित चार गिरफ्तार

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Woman Throws Her Husband From Gandhi Setu In Ganges River, Four Arrested Including Wife And Her Lover

पटना2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • शादी से पहले ही महिला का प्रेमी से था संबंध, बाद में भी महिला का प्रेमी से चल रहा प्रेम प्रसंग

खगौल थाना क्षेत्र के लेखा नगर में मुंडेश्वरी अपार्टमेंट के पास संजय सिंह के मकान में मिस्त्री का काम करने वाले संतोष पासवान काे उसकी पत्नी के प्रेमी ने अपने दाे चचेरे और ममेरे भाइयाें के साथ मिलकर गांधी सेतु से गंगा नदी में फेंक दिया। उसका शव अभी नहीं मिला है। पुलिस ने संताेष की पत्नी अर्चना कुमारी और उसके प्रेमी पंकज कुमार सहित चार आराेपियाें काे गिरफ्तार कर लिया है। खगौल थाना प्रभारी मुकेश कुमार मुकेश ने बताया कि संतोष की उम्र लगभग 24 वर्ष थी। उसकी पत्नी अर्चना कुमारी का प्रेमी पंकज कुमार वैशाली जिले का रहने वाला है। अर्चना ने अपने प्रेमी पंकज और वैशाली के ही रहने वाले उसके चचेरे भाई बबलू कुमार और ममेरे भाई रंजन कुमार के साथ मिलकर अपने पति की हत्या करवा दी।

उन्हाेंने बताया कि पंकज कुमार और अर्चना कुमारी का पहले से ही प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसी बीच अर्चना की शादी समस्तीपुर के सुल्तानपुर के रहने वाले संतोष पासवान से हो गई। शादी के बाद भी इन दोनों का प्यार कायम रहा।

साजिश : नदी में फेंकने के पहले तीनों आरोपियों ने संतोष को पिलाई थी शराब

इसी बीच साजिश के तहत पंकज ने संतोष से कहा कि मुझे भी आपके साथ काम करना है। संतोष ने इस बात में हामी भर दी। इसके बाद पंकज 4 अक्टूबर को संतोष के पास खगौल आ गया। 5 अक्टूबर को पंकज ने अपने साथ संतोष को बाजार की तरफ ले जाने लगा। लेखा नगर पेट्रोल पंप के पास पहले से ही पंकज का चचेरा भाई बबलू और ममेरा भाई रंजन मौजूद था।

तीनों ने मिलकर संतोष को आसोपुर मुसहरी के पास ले जाकर खूब शराब पिलाई। इसके बाद उसे पटना जंक्शन से टेंपो रिजर्व करके गांधी सेतु ले गया। कुछ दूर पहले ही टेंपो से उतर कर पैदल ही सेतु पर जाने लगा।

सुनसान जगह देखकर पंकज, बबलू और रंजन ने संतोष पासवान को उठाकर गंगा में फेंक दिया। वारदात से कुछ समय पहले 7 बजे संतोष के भाई संजीव ने फोन किया था, तो पंकज ने कहा था कि इस वक्त कुछ ज्यादा ही खा-पी लिए हैं। इसलिए हम अपने दोस्तों के रात में पटना में रुकेंगे और सुबह में खगौल आएंगे।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

बदल देना चाहिए राजेंद्र नगर टर्मिनल का नाम: कर देना चाहिए कंकड़बाग टर्मिनल, रास्ता बंद होने की वजह से लोगों को घूम कर जाना पड़ता है

बदल देना चाहिए राजेंद्र नगर टर्मिनल का नाम: कर देना चाहिए कंकड़बाग टर्मिनल, रास्ता बंद होने की वजह से लोगों को घूम कर जाना पड़ता है

Hindi News Local Bihar Bihar News; People Facing Problem In Rajendra Nagar Terminal Area Road …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *