Sunday , February 28 2021
Breaking News

मॉक ड्रिल में दंगा नियंत्रक दल ने चुनाव के दौरान भीड़ नियंत्रण के तरीके सीखे

भागलपुर6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

विधानसभा चुनाव को लेकर पुलिस लाइन में शुक्रवार को जिला दंगा नियंत्रक दल के जवानों ने मॉक ड्रिल किया। चुनाव के दौरान अगर कहीं भीड़ उन्मादी हो जाए तो कैसे उसे नियंत्रित करना है, इस बारे में सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज ने जवानों को गुर बताए। इस दौरान भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कब लाठी चार्ज करना है, उससे पहले भीड़ को अवैध घोषित करने की क्या प्रक्रिया है, पिलेट गन, वाटर कैनन और अश्रु गैस का कब प्रयोग करना है, इस बारे में बताया गया। सिटी एसपी ने पुलिसकर्मियों को बताया कि कैसे भीड़ नाजायज मजमा और विधि-विरुद्ध होता है और इसे कंट्रोल करने के लिए निर्धारित चार चरणों में पुलिस को क्या करना है। किसी भी उन्मादी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सीधे पुलिसकर्मियों को लाठी चार्ज या फायरिंग नहीं करना है। वहां तैनात मजिस्ट्रेट पहले माइकिंग कर भीड़ को पीछे हटने की चेतावनी देंगे। कई बार अश्रु गैस का भी भीड़ डटकर सामने कर लेती है तो मजिस्ट्रेट की चेतावनी और आदेश के बाद लाठीचार्ज करना है। लाठीचार्ज के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि लाठी का प्रहार पैरों में हो। आखिरकार मजिस्ट्रेट के निर्देश पर पुलिस भीड़ पर फायरिंग करेगी। लेकिन फायरिंग में भी इस बात का ध्यान रखा जाएगा कि गोली लोगों के पैर में लगे। मॉक ड्रिल में सिटी एएसपी पूरन झा, सार्जेट मेजर केके शर्मा भी मौजूद थे।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

विधानसभा में साइबर क्राइम की गूंज: कई विधायक भी हो चुके हैं शिकार; सरकार का जवाब- थाना नहीं खुलेगा, साइबर यूनिट है यहां

विधानसभा में साइबर क्राइम की गूंज: कई विधायक भी हो चुके हैं शिकार; सरकार का जवाब- थाना नहीं खुलेगा, साइबर यूनिट है यहां

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना23 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *