Thursday , April 15 2021
Breaking News

राबड़ी-तेजस्वी से मिले रामा सिंह, रघुवंश के रहते टल गयी थी राजद में ज्वाइनिंग, अब वैशाली में बनेंगे सहारा

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Former MP Rama Singh Meets Tejashwi Yadav | Rama Singh To Join RJD Ahead Of Bihar Vidhan Sabha (Assembly) Election 2020

पटना13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रामा सिंह की वजह से ही कद्दावर नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपने पद और निधन के तुरंत पहले पार्टी की सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया था।

  • रामा सिंह के अब राजद में शामिल होने का रास्ता साफ़ हो गया है
  • रघुवंश सिंह द्वारा विरोध किये जाने पर तेजस्वी ने उनके शामिल होने का कार्यक्रम टाल दिया था

वैशाली के पूर्व सांसद रामा किशोर सिंह उर्फ रामा सिंह की आखिरकार राबड़ी आवास में एंट्री हो ही गयी। आज रविवार की शाम वे राबड़ी आवास पहुंचे जहां उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री सहित नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से भी मुलाक़ात की। रामा सिंह का राबड़ी आवास आना इस मायने में महत्वपूर्ण है कि उनकी वजह से ही पार्टी के कद्दावर नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपने पद और निधन के तुरंत पहले पार्टी की सदस्यता तक से इस्तीफ़ा दे दिया था।

रामा सिंह के अब राजद में शामिल होने का रास्ता साफ़ हो गया है। इससे पहले बीते जून माह में ही रामा सिंह राजद में शामिल होने वाले थे। लेकिन रघुवंश सिंह द्वारा विरोध किये जाने पर तेजस्वी ने उनके शामिल होने का कार्यक्रम टाल दिया था।

रामा सिंह के अब राजद में शामिल होने का रास्ता साफ़ हो गया है।

रामा सिंह के अब राजद में शामिल होने का रास्ता साफ़ हो गया है।

रामा सिंह के राजद में आने का हुआ था विरोध

जानकार बताते हैं कि रामा सिंह का राजद में शामिल होना राघोपुर में तेजस्वी के चुनाव जीतने के लिए जरूरी है। लेकिन बीते अगस्त माह में तेजस्वी यादव के आवास पर महनार से आये पार्टी समर्थकों ने रामा सिंह की एंट्री का कड़ा विरोध किया था। राजद नेताओं ने तेजस्वी यादव के सामने अपनी बात रखी और उनके सामने ही रामा सिंह मुर्दाबाद के नारे लगाए थे। तेजस्वी से पार्टी के वैशाली जिला उपाध्यक्ष अभय कुमार राय ने कहा कि रामा सिंह की इंट्री राजद में नहीं होनी चाहिए। हमारा समाज उन्हें स्वीकार नहीं करेगा।

इस दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि पार्टी पर सभी लोगों का अधिकार है, वे अपनी दावेदारी पार्टी के सामने रखें। जो सही निर्णय होगा, पार्टी लेगी। जो भी मजबूत उम्मीदवार होगा, उसे टिकट मिलेगा। राजद ए-टू-जेड की पार्टी है।

रामा-रघुवंश की अदावत बहुत पुरानी है

बाहुबली नेता के तौर पर जाने जानेवाले रामा सिंह की वैशाली के महनार इलाके में तूती बोलती थी। रामा सिंह पांच बार विधायक रहे हैं और 2014 के मोदी लहर में लोजपा से वैशाली से सांसद रह चुके हैं। इसी चुनाव में उन्होंने राजद के कद्दावर नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह को हराया था। इस हार के बाद रघुवंश प्रसाद रामा सिंह का नाम तक नहीं सुनना चाहते थे। उधर रघुवंश के विरोध पर तंज करते हुए रमा सिंह ने कहा था कि पार्टी किसी की जागीर नहीं होती है और पार्टी से ऊपर कोई नहीं होता है। कौन मेरे आने का विरोध करता है इसको लेकर मुझे कुछ ज्यादा नहीं कहना है।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

कोरोना से 14 दिन में 75 मौत: अप्रैल लिख रहा मौत की कहानी, ठंडी नहीं पड़ रही चिता की आग; एक के बाद दूसरी लाश

कोरोना से 14 दिन में 75 मौत: अप्रैल लिख रहा मौत की कहानी, ठंडी नहीं पड़ रही चिता की आग; एक के बाद दूसरी लाश

Hindi News Local Bihar Patna Patna Coronavirus, Bihar Crematoriums Update: 75 Covid 19 Patients Deaths …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *