Sunday , February 28 2021
Breaking News

रामगढ़ अंचल कार्यालय में 25 की जगह सिर्फ 10 कर्मचारी, नहीं बन रहे प्रमाणपत्र

कैमूर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • 126 राजस्व मौजे की जिम्मेवारी 5 हलका कर्मियों पर,महीनों से लंबित पड़े रहते है मामले

रामगढ़ अंचल कार्यालय में कर्मियों की भारी कमी होने से वर्तमान हालात यह है कि जाति-आय समेत विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्रों को बनवाने के लिए लोगों को दफ्तर का चक्कर लगाना पड़ रहा है।हर रोज अंचल क्षेत्र में काम का बोझ बढ़ता जा रहा है,लेकिन जितने पोस्ट सृजित हैं उतने कर्मियों की पोस्टिंग नही हो पा रही है।

रामगढ़ अंचल कार्यालय में अंचलाधिकारी को छोड़ कर कुल 25 पद सृजित है।लेकिन आधे से भी कम कर्मियों की पोस्टिंग की गई है।जिस वजह से क्षेत्र के लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। एक नजर अगर रामगढ़ अंचल क्षेत्र के भौगोलिक क्षेत्रफल की बात करें तो कुल 16231 वर्ग हेक्टयर है वर्ष 2011 के जनगणना के अनुसार 124287 जनसंख्या है।

तेरह पंचायतों में कुल 126 राजस्व मौजे हैं। जिनके कार्यो को निपटाने के लिए हल्का कर्मचारी के 13 पद सृजित है। जो वर्तमान में 5 हल्का कर्मचारियों के भरोसे है वहीं कार्यालय के कार्यो को निपटाने के लिए 6 किरानी के पोस्ट सृजित है,लेकिन 3 किरानियों के सहारे कार्यालय का काम चल रहा है तो सीआई के एक पद सृजित है जो वर्तमान में शून्य है वहीं प्यून के 5 पदों में एक की पोस्टिंग की गई है।जो लोगों की समस्याओं का वजह बना हुआ है।

वर्षों से रिक्त पड़े कर्मियों के पद पर नियुक्ति नहीं

सूबे की सरकार लोगों को बेहतर सुविधा मुहैया कराने की दावे करती रही।सरकारें बदलती रही लेकिन वर्षो से रिक्त पड़े कर्मियों के पद पर नियुक्ति नही की जा सकी।पिछले कुछ वर्ष से रिटायर कर्मियों को ही रख काम कराया जा रहा है।अंचल के कर्मी बताते हैं कि पहले की अपेक्षा में आज कार्यालय में वर्क करने व कराने की जरूरत बढ़ गई है।

कर्मियों को तमाम तरह के जिमेवारी दे दी जा रही है।भूमि विवादो में कमी होने के बदले इजाफा हो रहा है भूमि के अतिक्रमण की सबसे ज्यादा शिकायत मिलती रहती है जो कर्मियों की कमी की वजह से पेंडिंग पड़ा रहता है।समय से मामलों का निष्पादन नही होने से कई जगहों पर झगड़ा विवाद उत्पन्न होने से मारपीट हो जाती है।
एक ही काम के लिए बार बार चक्कर लगाने पड़ रहे हैं
अगर अंचल कार्यालय में सृजित पदों के अनुसार कर्मियों की पोस्टिंग होती तो क्षेत्र के लोगों को परेशानियों का सामना नही करना पड़ता। कर्मियों ने बताया कि सबसे ज्यादे समस्या तो तब हो रही है।जब भूमि विवाद की वजह से खेतों में खड़े फसल को काटने की शिकायत मिलती है। कर्मियों के कमी की वजह से समय से समस्या का हल नही निकाला जाता।

क्षेत्र के भूमि के रैयतों के साथ साथ आम लोगों ने कहा कि सरकार के द्वारा दावे तो जरूर किये जा रहे है लेकिन ब्यवस्था में कोई बदलाव नही आ रहा है अंचल कार्यालय में एक ही काम के लिए बार बार चक्कर लगाने पड़ रहे है चाहे मालगुजारी रसीद की बात हो या एलपीसी किसी भी काम के लिए कई दिनों तक चक्कर लगाने पड़ रहे।लेकिन रामगढ़ अंचल कार्यालय में जरूरत के अनुसार कर्मियों की पोस्टिंग नही हो पाई है। जिस वजह से आम लोग परेशान हो रहे है।
छात्र -छात्राओं को प्रमाण पत्र बनवाने में परेशानी
वर्तमान के दिनों में छात्र छात्राओं के नामांकन के लिये विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्रों की जरूरत पड़ रही है लेकिन समय से प्रमाण पत्र नही बन पा रहे लोगों ने विभाग से कोई वैकल्पिक के तहत समय से प्रमाण पत्रों को बनाने की माग की है ताकि लोगों की समस्याओं का निदान समय से किया जा सके।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

वसूली के पैसे के लिए थानेदार को पीटने दौड़ा ड्राइवर: दारोगा ने घबरा कर बड़े अधिकारी को फोन लगाया, कहा-हेल्लो सर, ड्राइवर बहुत बवाल कर रहा है

वसूली के पैसे के लिए थानेदार को पीटने दौड़ा ड्राइवर: दारोगा ने घबरा कर बड़े अधिकारी को फोन लगाया, कहा-हेल्लो सर, ड्राइवर बहुत बवाल कर रहा है

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप बक्सर32 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *