Monday , April 19 2021
Breaking News

लाश को मृतक की घर की छत पर रखा, परिजन बाेले-दुष्कर्म किया, पुलिस ने केस नहीं लिखा; पंचायत के दबाव में दफनाया

साहेबगंज9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस ने केस दर्ज करने की बजाय परिजनों को थाने से लौटा दिया। दबाव बढ़ने पर तीन दिन बाद पुलिस ने मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में शव को कब्र से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

  • मेला देखने साथ गई सहेली ने बताया- पूर्व प्रेमी ने अपने चार साथियाें के साथ दुष्कर्म कर मार डाला

रांगा थाना क्षेत्र में एक नाबालिग लड़की की हत्या कर दी गई। फिर शव उसके ही घर के छज्जे पर रख दिया गया। परिजनाें का आराेप है कि लड़की की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की गई है। पुलिस ने भी केस दर्ज करने की बजाय पंचायत में मामला सुलझाने की बात कहकर भेज दिया। और पंचायत के दबाव में उसे दफनाना पड़ा। घटना शुक्रवार की है।

आरोपियों ने पहले शव को मिट्‌टी के खदान में फेंक दिया था। गांववालों ने हटाने को कहा तो उसे उसी के छज्जे पर रख दिया। दबाव बढ़ा तो साहेबगंज एसपी अनुरंजन किस्पाेट्टा ने बरहरवा एसडीपीओ प्रमाेद मिश्रा काे साैंपी। एसडीपीओ ने जांच शुरू कर साेमवार रात चार आराेपियाें काे हिरासत में ले लिया। मंगलवार काे मजिस्ट्रेट की देखरेख में शव काे कब्र से निकालकर पाेस्टमार्टम के लिए भेजा गया। पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है।

पूर्व प्रेमी ने दूसरे युवक के साथ देखा तो रास्ते से उठाया

दाे नाबालिग लड़कियां शुक्रवार काे गांव के पास ही फुटबाॅल मैच के दाैरान मेला देखने गई थी। मृतका की सहेली ने बताया कि उस लड़की काे पूर्व प्रेमी ने दूसरे लड़के के साथ देख लिया। लाैटते समय उसने चार साथियाें के साथ उसे पकड़ लिया और दुष्कर्म कर हत्या कर दी और शव काे बाेरी में बंद कर लालमाटी खदान में फेंक दिया। इस दाैरान माैका पाकर वह भाग निकली और पीड़िता के परिजनाें काे सूचना दी। इधर, परिजन बेटी काे ढूंढ़ते रहे, लेकिन कुछ पता नहीं चला।

पहले इस तरह पंचायत और पुलिसवाले बनाते रहे दबाव

शुक्रवार से परिजन लड़की को ढूंढ़ रहे थे। रविवार को उनके घर के छज्जे पर बोरी में बंद लाश मिली। परिजनों ने कहा-शव देखते ही रंगा थाना पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। लेकिन थानेदार ने केस दर्ज करने की बजाय यह कहकर वापस भेज दिया कि ग्राम प्रधान से मिलकर मामला सुलझाओ। फिर गांव में पंचायत हुई। पंचाें ने दबाव डालकर अंतिम संस्कार करने को मजबूर कर दिया और आखिरकार उसे दफन करना पड़ा। हालांकि थानेदार ने इस बात से इनकार करते हुए कहा कि उनके पास कोई नहीं पहुंचा। उधर, एसपी ने कहा कि दुष्कर्म की बात सामने आ रही है। चार आरोपियों को हिरासत मेंे लिया गया है। पोस्टमार्ट रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

गुमला में 5वीं की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म

चैनपुर में पांचवीं की छात्रा से पांच युवकाें ने सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद पीड़िता सात घंटे तक जंगल में तड़पती रही और दूसरे दिन सुबह घर पहुंचकर परिजनाें काे जानकारी दी। ग्रामीणाें में बैठक कर मामले काे दबाने का प्रयास किया ताे पीड़िता के परिजनाें ने दाे आराेपियाें पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया।

गंभीर रूप से घायल दाेनाें युवकाें काे जब अस्पताल में भर्ती कराया गया, तब मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने इलियास मिंज और सुभाष चीक बड़ाईक समेत पांचाें आराेपियाें काे गिरफ्तार कर लिया है। घटना 10 अक्टूबर की है। पीड़िता ने इनमें से एक से गाना सुनने के लिए साउंड बाॅक्स मांगा था। यही देने के लिए आराेपियाें ने उसे बुलाया और जंगल में ले जाकर दुष्कर्म किया।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

ऑक्सीजन के बाद इंजेक्शन का स्टॉक ड्राई: ₹800 के इंजेक्शन का वसूल रहे ₹20 हजार; सरकार की निगरानी का दावा फेल

ऑक्सीजन के बाद इंजेक्शन का स्टॉक ड्राई: ₹800 के इंजेक्शन का वसूल रहे ₹20 हजार; सरकार की निगरानी का दावा फेल

Hindi News Local Bihar Patna Oxygen Remdesivir Injections Black Marketing In Patna; Bihar COVID Second …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *