Monday , April 19 2021
Breaking News

लोकसभा चुनाव में आचार संहिता उल्लंघन से जुड़े 45 केसों का होगा स्पीडी ट्रायल, 50 से अधिक बनाए गए हैं आरोपी

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • Speedy Trial Of 45 Cases Related To Violation Of Code Of Conduct In Lok Sabha Elections, More Than 50 Accused Have Been Made

भागलपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • एसएसपी ने जिला व सत्र न्यायाधीश को सभी केसों की सूची उपलब्ध कराई

2019 में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में आचार संहिता उल्लंघन से जुड़े 45 केसों का कोर्ट में स्पीडी ट्रायल होगा। इसके लिए एसएसपी ने जिला व सत्र न्यायाधीश को केसों की सूची उपलब्ध कराई है। इन 45 केसों में 50 से अधिक आरोपी है, जिनपर आचार संहिता उल्लंघन, चुनाव के दौरान बिना अनुमति के पोस्टर, बैनर और होर्डिंग लगाने, बिना अनुमति धरना देने, लाउडस्पीकर का प्रयोग करने, बिना अनुमति चुनाव प्रचार करने आदि का आरोप है।

ज्यादातर आरोपी स्कूल, कोचिंग, प्रतिष्ठान आदि के संचालक हैं, जिन्होंने आचार संहिता लागू होने के बाद भी सरकारी दीवार, पोल, बिल्डिंग आदि से अपने संस्थान का पोस्टर, बैनर, होर्डिंग आदि नहीं हटाया था। पुलिस उक्त सभी मामलों में 50 से अधिक अभियुक्तों पर चार्जशीट फाइल कर चुकी है। उक्त सारे केस जिले के 22 थानों में संबंधित अंचल के सीओ, राजस्व पदाधिकारी या किसी सरकारी कर्मी की ओर से थाने में संपत्ति विरुपण अधिनियम की धाराओं में दर्ज कराया गया था।

इन केसों में ये हैं प्रमुख आरोपी
आचार संहिता उल्लंघन से जुड़े उक्त केसों के प्रमुख आरोपियों में राजेंद्र दास मानवदूत, अनिल कुमार, हिमांशु यादव, संतोष साह, निर्दलीय प्रत्याशी अभिषेक प्रियदर्शी, महेश यादव, मिथुन कुमार, डॉ. एसके विश्वास, रॉयल चिल्ड्रेन एकेडमी के संचालक, गीतांजली फर्नीचर के संचालक, उत्तम स्वीट्स के संचालक, एसएच इंटरनेशनल स्कूल के संचालक, एक कोचिंग संस्थान के संचालक, सोलंकी डिफेंस एकेडमी के संचालक आदि शामिल हैं।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

ऑक्सीजन पर पहरे से संकट और गहराया: निजी अस्पतालों को नहीं मिल रहे पर्याप्त सिलेंडर, प्रशासन ने ऐसे अस्पतालों को दी इलाज की अनुमति जहां व्यवस्था ही नहीं

ऑक्सीजन पर पहरे से संकट और गहराया: निजी अस्पतालों को नहीं मिल रहे पर्याप्त सिलेंडर, प्रशासन ने ऐसे अस्पतालों को दी इलाज की अनुमति जहां व्यवस्था ही नहीं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *