Tuesday , March 9 2021
Breaking News

सन ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी बिहार की सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे, उपेंद्र कुशवाहा और चिराग पासवान के साथ भी जा सकते हैं

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Sun Of Mallah Mukesh Sahni Will Contest All 243 Seats In Bihar, May Also Go With Upendra Kushwaha And Chirag Paswan

पटना9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पटना में प्रेस कांफ्रेस करते मुकेश सहनी।

  • कहा- तेजस्वी को मैं छोटा भाई मानता था, उन्होंने कहा था-मुझे डिप्टी सीएम घोषित करेंगे लेकिन मुझे धोखा दिया
  • लालू जी होते तो स्थिति ऐसी नहीं होती, तेजप्रताप को उनके परिवार के लोग ही बदनाम कर रहे हैं

महागठबंधन से बहुत बेआबरु होकर निकली विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) बिहार में सभी 243 सीटें पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी। वीआईपी के प्रमुख मुकेश सहनी ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस में इस बात का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि जहां अति पिछड़ा उम्मीदवार होंगे वहां कोई प्रत्याशी नही देंगे। अपने दम पर चुनाव लड़ेंगे, मैंने रास्ता खोल कर रखा है। मेरी उपेंद्र कुशवाहा से बात हो रही है, और लोगों से भी बात चल रही है। मैं चिराग पासवान के साथ भी जा सकता हूं। सहनी ने कहा कि कल तक सारी स्थिति साफ कर दूंगा। लालू जी होते तो इस तरह से स्थिति नहीं होती।

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ने गलती की है, मैं उनके साथ कभी राजनीति नहीं कर सकता। तेज प्रताप का नेतृत्व हुआ तो मैं भविष्य में उनके साथ राजनीति करूंगा। तेजप्रताप को उनके परिवार के लोग ही बदनाम कर रहे हैं। राजद पर आरोप लगाया कि बिस्कोमान में दुकान खुल चुकी है और वहां से टिकट का सौदा हो रहा है। मुकेश सहनी ने कहा कि 6 साल से बिहार में संघर्ष कर रहा हूं, हर किसी ने मुझे धोखा दिया है। लालू जी के साथ गठबंधन किया। लोकसभा में भी मुझे धोखा दिया गया। मुझे खगड़िया और मधुबनी की सीट नहीं चाहिए थी। लेकिन मधुबनी से मुझे अपना कैंडिडेट नहीं देने दिया गया। उन लोगों ने कैंडिडेट दिया, इसके बावजूद हम महागठबंधन में बने रहे।

सहनी ने कहा कि सन ऑफ मल्लाह किसी के पीछे चलने वाला नहीं है। उन्होंने (तेजस्वी) मुझे बड़ा भाई कहा, मैं भी उन्हें छोटा भाई मानता था। उनको मैं सीएम बनाना चाहता था। तेजस्वी बिहार के युवाओं से कोई मतलब नहीं रखना चाहते हैं, उनको कन्हैया और चिराग पासवान से नफरत है। उनको खुद के अपने बड़े भाई तेजप्रताप यादव से नफरत है। सारी बातें 2 दिन पहले तय हो चुकी थीं। लेकिन उन्होंने मुझे अंधेरे में रखा।

वीआईपी प्रमुख ने कहा कि जीतन राम मांझी की भी तेजस्वी यादव ने बेईज्जती की। उपेंद्र कुशवाहा के साथ भी उन्होंने धोखा किया, धक्का मार के गठबंधन से बाहर किया। मेरे साथ भी षडयंत्र रचा गया। 2019 में गठबंधन कांग्रेस से गठबंधन टूट चुका था, मैंने दिल्ली में रहकर गठबंधन को बचाया था। अक्सर मैं गठबंधन के साथ रहा हूं। सहनी ने कहा कि अपने आवास पर तेजस्वी यादव ने कहा था एक दिन बाद मैं आपके बारे में घोषणा करूंगा, तो मैंने कहा कि ठीक है मुझे डिप्टी सीएम घोषित कीजिए। उन्होंने कहा था कि दोनों एक साथ घोषित कर देंगे, लेकिन उन्होंने धोखा दिया।

उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति अपने परिवार का नहीं हो सकता है, वह पूरे बिहार के युवाओं का क्या होगा। तेजस्वी कल कह रहे थे कि मैं ठेठ बिहारी हूं, मेरा डीएनए साफ है, लेकिन उनका डीएनए पता चल गया। अपने भाई को तरसा रहे हैं जबकि पूरी पार्टी पर उनका हक है। तेजस्वी ने निषाद समाज को धोखा दिया है। विरासत में धन मिल सकता है, राजनीति नहीं मिलनी चाहिए। जिसमें दम होगा उसी को सत्ता मिलनी चाहिए।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

पहल: समय से पहचान कर कम की जा सकती है कैंसर से माैत, शुरुआती लक्षण में हो जाएं सतर्क : डॉ. सरिता

पहल: समय से पहचान कर कम की जा सकती है कैंसर से माैत, शुरुआती लक्षण में हो जाएं सतर्क : डॉ. सरिता

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप मुजफ्फरपुर3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *