Monday , March 1 2021
Breaking News

साइकिल से चापाकल ठीक करने जा रहे मिस्त्री को एनएच-333 पर ट्रक ने रौंदा, मौत

जमुई/ झाझाएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

गुरुवार को ट्रक की चपेट में आने से हुई मौत के बाद मौके पर जांच करती पुलिस।

  • केशोपुर गांव का रहने वाला था बुधन मियां, ट्रक लेकर चालक हुआ फरार
  • प्रखंड कार्यालय से सटे सोहजाना के पास घटी घटना, मौके पर तोड़ा दम

झाझा थानाक्षेत्र के सोहजाना के समीप एक ट्रक साइकिल सवार बुजुर्ग व्यक्ति को रौंदते हुए भाग निकला। हालांकि आस-पास के लोग भाग रहे ट्रक को पकड़ने का प्रयास किया लेकिन चालक ट्रक की गति तेज करते हुए भागने में सफल रहा। स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना झाझा थाने की पुलिस काे दी। घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने मृतक की पहचान थानाक्षेत्र के केशोपुर गांव के मुस्लिम टोला निवासी लगभग 60 वर्षीय बुधन मियां के रूप में की। इधर, स्थानीय लोगों द्वारा मृतक के परिजनों को भी घटना की सूचना दी गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मृतक बुधन मियां साइकिल से सोहजाना होते हुए कर्पूरी चौक की ओर जा रहा था तभी एक ट्रक की चपेट में आकर बुरी तरह कुचला गया। इस घटना में उसकी मौके पर ही मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बुधन जब सड़क पर जा रहा था तभी सोहजाना के पास एनएच-333 के जर्जर होने के कारण उसकी साइकिल अनियंत्रित हो गई। तभी गिद्धौर की ओर से तेज रफ्तार में आ रहे एक ट्रक ने उसे अपनी चपेट में ले लिया। ट्रक रौंदता हुआ सोनो की ओर भाग निकला। ट्रक से कुचले जाने के कारण बुधन के शरीर का चिथड़ा उड़ गया और उसका क्षत-विक्षत शव सड़क पर बिखर गया। प्रखंड कार्यालय के समीप घटना घटने के कारण बड़ी संख्या में लोग दौड़कर वहां पहुंचे लेकिन तब तक बुधन की मौत हो चुकी थी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को लिया कब्जे में, ट्रक चालक पर होगी प्राथमिकी
स्थानीय लोगों ने तुंरत इस बात की जानकारी झाझा थाना को दी। सूचना मिलन के बाद झाझा थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और भीड़ को हटाते हुए शव को अपने कब्जे में ले लिया। साथ ही उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस द्वारा स्थानीय लोगों से पूछताछ कर मामले की जानकारी भी ली गई। थानाध्यक्ष ने बताया कि अज्ञात ट्रक के खिलाफ मामला दर्ज किया जायेगा।

गांव से झाझा चापाकल बनाने जा रहा था बुधन
मृतक की पत्नी रूबी देवी ने बताया कि उसके पति चापाकल मिस्त्री थे। वे क्षेत्र में चापाकल की मरम्मत कर अपने परिवार का भरण-पोषण कर रहे थे। गुरुवार की सुबह झाझा से चापाकल बनाने के लिए एक फोन आया था। उसके बाद सुबह वे घर में यह बोलकर निकले कि चापाकल बनाने झाझा जा रहे हैं।

सुबह 8 बजे घर से निकला था, गांव वालों ने दी हादसे में मरने की सूचना
मृतक की पत्नी रूबी देवी सहित पूरा परिवार घटना की सूचना के बाद सदमे में है। वहीं ग्रामीणों ने बताया कि मृतक गरीब था। तीन कुंवारी बेटी और दो बेटा है। मृतक के पुत्र मो. शमशेर ने बताया कि सुबह घर में मां को घर का खर्चा देकर 8 बजे यह कहकर निकले थे कि झाझा बाजार में एक चापाकल ठीक करने जा रहे हैं। बाद में कुछ लोगों द्वारा सड़क दुर्घटना में उनकी मौत की सूचना दी गई। उनके खर्चे पर ही पूरा परिवार चल रहा था।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

जेब पर बोझ: आज से ऑटाे किराए में 25 से 30 फीसदी की बढ़ोतरी, अब न्यूनतम किराया 6 रुपए होगा

जेब पर बोझ: आज से ऑटाे किराए में 25 से 30 फीसदी की बढ़ोतरी, अब न्यूनतम किराया 6 रुपए होगा

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप मुजफ्फरपुरएक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *