Monday , March 1 2021
Breaking News

15-15 साल के शासन का फर्क बता रहा जदयू, तब सिंचाई पर खर्च हुए थे 7115 करोड़ रुपए, अब 33164 करोड़

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • JDU Is Telling The Difference Of 15 15 Years Of Governance, Then 7115 Crores Was Spent On Irrigation, Now 33164 Crores

पटना7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

जदयू ने लालू प्रसाद व नीतीश कुमार के 15-15 साल के शासन के फर्क को बताने का अभियान शुरू कर दिया है। 7 दिन तक जदयू के मंत्री-नेता, बुनियादी मसलों पर इस फर्क को बताएंगे। गुरुवार को इसकी शुरुआत करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने कहा कि जब राजा जगता है तब जनता सुनहरी नींद सोती है। बीते 15 साल में बिहार में यही हुआ।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद जगकर जनता को चैन की नींद दी। वे मीडिया से मुखातिब थे। बोले-राजद राज के 15 साल में सिर्फ 2.65 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता स्थापित हुई; जबकि नीतीश कुमार के शासन में 17 लाख हेक्टेयर में सिंचाई क्षमता को दोबारा स्थापित किया गया, 4.6 लाख हेक्टेयर में नई सिंचाई क्षमता विकसित की गई। तब सिंचाई पर सिर्फ 7115 करोड़ खर्च हुए, जबकि बीते 15 साल में 33164 करोड़ खर्च हुए। कृषि उत्पादन दोगुना हुआ।

विकास में कृषि की भागीदारी 25 फीसदी

उन्होंने कहा-मछलीपालन का कारोबार ढाई गुना हुआ। मखाने को अलग पहचना मिली। 7 निश्चय के दूसरे चरण में हर खेत में सिंचाई का पानी पहुंचाने का संकल्प है। बिहार के विकास के डबल डिजिट में 25 प्रतिशत भागीदारी कृषि की है। यह सब कृषि रोडमैप का नतीजा रहा। 5 वर्षों में बिहार, भारत में गेहूं व चावल उत्पादन में 6वें पायदान पर है, मक्का व सब्जी उत्पादन में तीसरा स्थान रखता है।


Source link

About divyanshuaman123

Check Also

ट्यूशन पढ़ने जा रहे छात्र को टैंकर ने रौंदा: पटना के मोकामा में साइकिल सवार छात्र की मौत; गुस्साए लोगों ने किया हंगामा

ट्यूशन पढ़ने जा रहे छात्र को टैंकर ने रौंदा: पटना के मोकामा में साइकिल सवार छात्र की मौत; गुस्साए लोगों ने किया हंगामा

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना8 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *