Sunday , May 16 2021
Breaking News

भास्कर प्रयास- वहां पहुंचे जहां थोड़ी भी आस: बिहटा में केंद्र सरकार के ESIC हाॅस्पिटल के 50 चालू बेड में 43 हैं खाली, डॉक्टर-ऑक्सीजन भी हैं; इमरजेंसी है तो सीधे जाएं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
इसी वर्ष कोरोना काल में खुला है कुल 500 बेड की क्षमता वाला बिहटा का ESIC अस्पताल। - Dainik Bhaskar

इसी वर्ष कोरोना काल में खुला है कुल 500 बेड की क्षमता वाला बिहटा का ESIC अस्पताल।

तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बीच अस्पतालों में बेड की कमी हो गई है। पटना के सभी बड़े सरकारी अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए बेड खत्म हैं। प्राइवेट में भी कुछ ही बचे हैं। बेड हैं भी तो ऑक्सीजन की कमी है। ऐसे में भास्कर प्रयास कर रहा है कि आपको उन अस्पतालों की जानकारी दी जाए, जहां बेड उपलबध हैं। ताकि इमरजेंसी की स्थिति में कहीं भटकना न पड़े। इसी भटकने की वजह से मंगलवार को पटना में एक पूर्व सैनिक की जान जा चुकी है। प्राइवेट अस्पताल में भर्ती पूर्व सैनिक को पहले AIIMS, फिर प्राइवेट, और फिर NMCH ले जाया गया, इस भागदौड़ में ही उनकी सांस साथ छोड़ गईं।

इमरजेंसी की स्थिति हो तो सीधे आ जाएं ESIC बिहटा

पटना से करीब 32 किलोमीटर दूर बिहटा में स्थित ESIC केंद्र सरकार का अस्पताल है। यहां अभी की स्थिति के मुताबिक़ कोविड पेशेंट के लिए 43 बेड खाली हैं। कुल 50 बेड हैं। सात पर बीते दो दिनों में मरीज भर्ती हुए हैं। अस्पताल में 330 बेड ऐसे उपलब्ध हैं, जिनपर ऑक्सीजन का सेटअप मौजूद है। यह महत्वपूर्ण इसलिए है, क्योंकि पटना में अब कई प्राइवेट अस्पताल इस शर्त पर मरीज की भर्ती कर रहे हैं कि उन्हें ऑक्सीजन की व्यवस्था खुद करनी होगी।

अस्पताल में अभी ऑक्सीजन के 70 सिलिंडर उपलब्ध

ESIC बिहटा के पास अभी ऑक्सीजन के कुल 70 सिलिंडर उपलब्ध हैं। इनमें 50 अस्पताल के पास पहले से मौजूद थे। 20 राज्य सरकार ने दिए हैं। अस्पताल ने अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए सेना से मदद मांगी है। अस्पताल का कहना है कि अभी उनके पास 50 बेड पर मरीजों का इलाज करने के लिए पर्याप्त संसाधन (डॉक्टर, ऑक्सीजन आदि) मौजूद हैं। अगर सरकार से मदद मिलती है, तो वे बेड बढ़ा भी सकते हैं। इस अस्पताल की कुल क्षमता 500 बेड की है।

लक्षण वाले या RTPCR पॉजिटिव मरीज के लिए 24 घंटे इमरजेंसी सुविधा

इस अस्पताल में कोविड संक्रमण के किसी भी तरह के लक्षण वाले मरीजों के लिए 24 घंटे निशुल्क इमरजेंसी सेवा उपलब्ध है। साथ में RT-PCR में पॉजिटिव होने की रिपोर्ट हो तो उन्हें तत्काल एडमिट किया जा सकता है।

कैसे पहुंचे ESIC बिहटा

ESIC बिहटा, बिहटा चौराहा से करीब 1.5 किमी की दूरी पर सिकंदरपुर के पास है। भास्कर आपकी सुविधा के लिए इस जगह के लोकेशन का मैप भी दे रहा है। इस लिंक पर क्लिक कर आप सीधे अपने मोबाइल में अस्पताल की लोकेशन देख सकते हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

About divyanshuaman123

Check Also

रेमडेसिवीर के बाद अब डिमांड में कालाजार की इंजेक्शन: ब्लैक फंगस के इलाज में इंजेक्शन के लिए अस्पतालों को पहले करना होगा डिमांड, जांच के बाद मिलेगी दवाई

रेमडेसिवीर के बाद अब डिमांड में कालाजार की इंजेक्शन: ब्लैक फंगस के इलाज में इंजेक्शन के लिए अस्पतालों को पहले करना होगा डिमांड, जांच के बाद मिलेगी दवाई

Hindi News Local Bihar Hospitals Demand Injection For Black Fungus; Government Provide Medicine After Investigation …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *